You are here
Home > नेशनल > इन्दिरा गाँधी ने लूटा था इस महल से बेशकीमती खजाना ,ट्रको में पंहुचा सोना ,पूरा देश था भ्रम में
loading...
loading...

इन्दिरा गाँधी ने लूटा था इस महल से बेशकीमती खजाना ,ट्रको में पंहुचा सोना ,पूरा देश था भ्रम में

1971 का समय था जब इंदिरा गाँधी ने पूरे देश में आपातकाल लगाया हुआ था और इसी आपातकाल में इंदिरा गाँधी की सरकार ने जयपुर की महारानी गायत्री के राजमहल जयघड से हजारो टन का सोना लूटा था ,करोडो का खजाना भी लूटा लेकिन फिर इस सोने का कोई पता नहीं चल पाया ,आखिर क्या था इंदिरा गाँधी के खजाना लूटने का मामला ये सब बताने के लिए हम आपको 1976 में लिए चलते हैं |

उस समय पूरे देश  में आपातकाल  लगा था इंदिरा गाँधी के इशारे पर राजस्थान के राजघराने के एक महल जयघड पर रेड डालने की तैयारी हुई उस समय जयपुर राज घराने की प्रतिनिधि महारानी गायत्री देवी थी | इंदिरा गाँधी ने इस रेड को आयकर विबाघ की कार्यवाही करार दिया था लेकिन उसमे पोलिश के दस्ते भी शामिल थे |

बाद में सेना की एक टुकड़ी भी इस काम में लगायी गयी जिसका मकसद जयघड में छ्पी बेशकीमती खजाना निकालना था जो महाराजा मान सिंह के द्वारा अफगानिस्तान विद्रोह के दौरान लूटा गया था |कहा जाता है की खजाना उनोंहे मुग़ल सल्तनत के हवाले न करके आमेर के किले में छिपा दिया था |
जयघड किले के नीचे पानी की विशालकाय टंकिया बनी है माना जाता है की खजाना   इन्ही में था | अब तक खजाने के लिए जयघड महल की खुदाई      करने के     बात   आग की तरह पूरे देश में फ़ैल गयी थी ,तीन महीने में जयघड महल में खजाने की खोज का काम चलता रहा | जब ये जाँच ख़त्म हुई तो सरकार ने अधिकारिक रूप से कहा की किले में कोई खजाना नहीं है ,लेकिन सरकार की इस बात  पर संदेह जाता है क्योकि सेना ने जब अपना अभियान समाप्त किया तो उसके बाद एक दिन के लिए दिल्ली जयपुर हाईवे आम लोगोये बंद कर दिया गया |

कहा जाता है की इस दौरान जयघड खजाने को ट्रको में भरकर दिल्ली लाया गया था  और सरकार इसे जनता की नजरो से छिपा कर रखना चाहती थी |  हलाकि तत्कालीन महारानी गायत्री देवी का कहना था की वो खजाना जयपुर के विकाश में लगा दिया गया था लेकिन इतिहासकारों ने इस बात को नहीं माना उनका कहना  था की खजाना का कुछ हिस्सा सरकार ने चोरी छिपे निकाला था | एक बात यह भी कही  जाती है की 1977 में जनता पार्टी की सरकार आने के बाद जयपुर राज घराने को किले से बरामद सम्पति का कुछ हिस्सा लौटाया गया था |

आज तक  महाराजा मान सिंह के खजाने पर सस्पेंस चल रहा है उस वख्त जयघड  के   खजाने ने पूरी दुनिया में तहलका मचा दिया  था |अजय देवगन की फिल बाद साहो  इसी घटना पर आधारित है जो सितम्बर में आने वाली है |

Leave a Reply

loading...
Top
loading...