You are here
Home > अभी अभी > भारत की इस रहस्यमयी झील में है असीमित खजाना, फिर भी इसे निकलने की हिम्मत इंसान में नही ! जाने क्यों ?
loading...
loading...

भारत की इस रहस्यमयी झील में है असीमित खजाना, फिर भी इसे निकलने की हिम्मत इंसान में नही ! जाने क्यों ?

ये धरती आर दुनिया अपने अन्दर कई ऐसे राज छुपाये और समेटे है जिनके बारे में आम इंसान सोच भी नही सकता | ऐसे राज  से जब भी कभी पर्दा उठा है , तब हमेशा ही इंसान हैरान हुआ है | ज्यादातर हमारे देश की धरती में कई ऐसे राज दफ़न हैं |ऐसा ही एक राज है जिसका रहस्य हिमाचालं प्रदेश के मंदी जिले के जिला मुख्यालय से करीब ६० किलोमीटर दूर “रोहांडा ” नमक स्थान पर छुपा हुआ है | रोहांडा सुदूर घने पहाड़ों के बीच स्थित एक स्थान है जहाँ ” कमरुनाग ” झील अपनी दिव्यता और असीमित खजाने के लिए काफी चर्चित है |
इस जगह के बारे में कई चर्चित पौराणिक कहानियां प्रचलित हैं | कहा जाता है की इस झील में पौराणिक काल से ही सोने- चांदी और अन्य जवाहरातों सहित काफी सारा धन डाला जाता रहा है | इसी कारण इस झील के गहरे पानी में सोना चांदी और रुपयों ने इकठ्ठा होकर खजाने का रूप ले लिया है |
प्रचलित है की इस झील में सोना चांदी और अन्य रत्न डालने से भक्तों की मनोकामना पूरी होती हैं | स्थानीय लोगों और मान्यताओं के अनुसार खजाना सीधे पाताल लोक में जाता है , इस खजाने की सुरक्षा किसी व्यक्ति द्वारा नही बल्कि पहाड़ों में बारिश के देवता ‘ कमरुनाग ‘ और उनके सेवकों द्वारा की जाती है | इसलिए इस खजाने को निकालने की हिम्मत कोई नही करता है |

और अगर किसी ने कोशिश की तो उसका पूर्ण विनाश निश्चित है इसलिए अब कोई भी इंसान खजाना निकालने की हिम्मत नही करता है | कहा जाता है की यहाँ चढ़ाया गया चढ़ावा पातल लोक के माध्यम से सीधा भगवान् की चरणों तक पहुँचता है |भारत की इस रहस्यमयी झील में है असीमित खजाना, फिर भी इसे निकालने की हिम्मत इंसान में नहीं! जानें क्यों?
ये धरती और दुनिया अपने अंदर कई ऐसे राज छुपाए और समेटे हुए है जिनके बारे में आम इंसान सोच भी नहीं सकता। ऐसे राज से जब भी कभी परदा उठा है या उठाया जाता है, तब हमेशा ही इंसान हैरान हुआ है। खासतौर पर हमारे भारत देश की धरती में ही कई ऐसे राज दफ़न हैं।
ऐसा ही एक राज या यूँ कहें कि रहस्य पहाड़ी राज्य हिमाचल प्रदेश के मंडी जिले के जिला मुख्यालय से तकरीबन 60 किलोमीटर दूर ‘रोहांडा’ नामक स्थान पर छुपा हुआ है. रोहांडा सुदूर घने पहाड़ों के बीच बसा एक स्थान है जहाँ स्थित “कमरूनाग” झील अपनी दिव्यता और ‘असीमित’ खजाने के लिए काफी चर्चित है।

इस जगह के बारे में कई पौराणिक कहानियां प्रचलन में हैं। कहा जाता है कि इस झील में पौराणिक काल से ही सोने-चांदी और अन्य जवाहरातों सहित काफी सारा धन डाला जाता रहा है और अब तक यह सिलसिला जारी है। इसी वजह से इस झील की गहराई में इस सोने चांदी और रुपयों ने इकट्ठा होकर खजाने का रूप ले लिया है।
प्रचलित है कि इस झील में सोना और अन्य रत्न डालने से भक्तों की सारी मन्नतें पूरी होती हैं। स्थानीय लोगों और मान्यताओं के अनुसार ‘खजाना’ सीधा पाताल की ओर जाता है,

Leave a Reply

loading...
Top
loading...