You are here
Home > अभी अभी > जब व्‍यक्ति के घर पहुंचा डाक लिफाफा खोलते ही उड़ गए उसके होश, जानें क्‍या है पूरा मामला
loading...
loading...

जब व्‍यक्ति के घर पहुंचा डाक लिफाफा खोलते ही उड़ गए उसके होश, जानें क्‍या है पूरा मामला

हम सभी हर रोज आए दिन अखबारों व न्‍यूज चैनल में फर्जीवाड़े मामले से जुड़ी खबरें सुनते हैं। कुछ न कुछ रोज ऐसा सामने आता है जिसमें पता चलता है कि लोगों को धोखा देकर और अपनी चालाकी से आसानी से बेवकूफ बना लेते हैं ये गैंग। हर रोज देश में कोई न कोई घोटाले होते ही रहते है जो की कानून के दायरे के बाहर होते है।

आज भी एक ऐसा ही मामला सामने आया है जिसे सुनकर हर किसी पांव तले जमीन खिंसक जाएगा जी हां आपको बता दें कि ये ऐसा मामला है जो किसी के साथ भी घट सकता है। ऐसा हम इसलिए कह रहे हैं क्‍योंकि आपको पता भी नहीं चलेगा कि कब किस समय और कहाँ पर ये घटना घट गई और आपका नुकसान भी हो जाएगा।

दरअसल आपको बता दें कि ये मामला पैन से जुड़ा हुआ है जी हां हाल ही में ये घटना तलवंडी निवासी सम्राट चड्ढा के घर पर घटी जिसके बाद वो खुद हैरान रह गए। दरअसल हुआ ये था कि इस पैन कार्ड में डीसीएम निवासी एक अन्य व्यक्ति का मोबाइल नंबर है लेकिन यह पैन कार्ड जिस आदमी के पास पंहुचा है उस आदमी के पास पहले से ही पैन कार्ड मौजूद है।

बता दें कि उनका पैनकार्ड 4 फरवरी 2006 में बना था। जो कि फर्जी पैन कार्ड 29 जून 2017 को बना है। उनके इस पैन कार्ड के लिफाफे पर एक नंबर दिया हुआ है। बात करने पर व्यक्ति डीसीएम क्षेत्र का निकाला। उसने पैन कार्ड की जानकारी होने से मना कर दिया। हैरानी तो तब हुई जब तलवंडी निवासी सम्राट चड्ढा को एक डाक आया और उन्होंने उसे खोलकर देखा तो उनकी आँखें फटी की फटी रह गयीं जी हां क्योंकि उस लिफाफे में उनके नाम का एक फर्जी पैन कार्ड था और इतना ही नहीं इसके बावजूद ध्‍यान देने वाली बात तो ये थी कि उस पैन कार्ड पर किसी दूसरे आदमी की फोटो लगी हुई थी इतना ही नहीं उस पर दूसरे आदमी के हस्ताक्षर भी थे।

अब इसके बाद भी ये मामला इतने पर ही खत्‍म नहीं हो गया दरअसल इस पैन कार्ड पर जो फोन नम्बर था वह भी फर्जी ही था। जिनके साथ ये घटना घटी वो खुद इस वाक्‍ये को देखकर हैरान थें। और फिर जब उसने इस फर्जी पैन कार्ड के लिफाफे पर एक नम्बर पड़ा हुआ था उसपर बात की तो मालूम पड़ा कि वो पैन कार्ड डीसीएम क्षेत्र का है और उसने पैन कार्ड के बारे में कुछ भी बताने से मना कर दिया है।

अब जरा आप ही सोचिए इस तरह की घटना अगर आपके साथ घटती है तो आपकी हालत भी कुछ ऐसी ही होगी। ये घटना किसी के साथ भी घट सकती है। आजकल देश में फर्जीवाड़ो की संख्‍या इतनी ज्‍यादा बढ़ गई है कि लोगों को आए दिन ठगने वाले ठग रहे हैं। उसके बावजूद लोग समझ नहीं पाते इसलिए जरूरत है सावधान रहने की और हमेशा सतर्क रहने की वरना कब क्‍या हो जाए इसका कोई ठिकाना नहीं होता। इस घटना से आपको सबक लेनी चाहिए।

Leave a Reply

loading...
Top
loading...